अभी-अभीः बालिका गृह मामले में घिरे मंत्री सुरेश शर्मा, बोले- CM नीतीश बोलेंगे तो दे दूंगा इस्तीफा

0
331

पटना:  मुजफ्फरपुर बालिका गृह में बच्चियों के साथ हुए यौन शोषण मामले को लेकर नेता  प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव अब बीजेपी के मंत्री सुरेश शर्मा का इस्तीफा मांग रहे हैं। विपक्ष की मांग को तेज होता देख सुरेश शर्मा ने एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा कि उनका मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले से कोई लेना देना नहीं हैं। अगर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस्तीफा देने को कहेंगे तो वह इस्तीफा दें देंगे।




उन्होंने कहा कि इस मामले में उनकी थोड़ी सी भी संलिप्तता पाने पर नीतीश कुमार ने मेरा इस्तीफा मांग तो मैं इस्तीफा दे दूंगा। उन्होंने कहा कि  मैं राजनीति में समाज सेवा करने आया है। तेजस्वी यादव जातीय विद्रोह फैलाने की कोशिश न करें। जातीय विद्रोह फैलाना समाज के लिए ठीक नहीं है। इससे समाज टूटता है। उनका इस मामले से कोई लेना-देना नहीं है। ऐसे में उनके इस्तीफे का सवाल ही नहीं।उन्होंने कहा कि मैंने तेजस्वी  यादव को कानूनी नोटिस भेजा है। उन्होंने अभी तक कोई जवाब नहीं दिया। उन्हें जवाब देना चाहिए। मंजू वर्मा के इस्तीफे पर उन्होंने कहा कि वह (मंजू वर्मा) समाज कल्याण विभाग की मंत्री थी। मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले में उनका नाम भी आया। इसलिए उन्होंने इस्तीफा दिया। मगर मेरा कहीं नाम नहीं आया है।




आपको बता दें कि राजद और कांग्रेस ने शनिवार को मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले में संलिप्तता का आरोप लगाते हुए बिहार के एक और मंत्री का इस्तीफा मांगा।  मंत्री का नाम लिए बगैर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मंत्री और मुजफ्फरपुर से विधायक को बर्खास्त करने की मांग की। यादव ने चेतावनी दी कि वह मामले में मंत्री की संलिप्तता को उजागर करेंगे।




गौरतलब है कि मंजू वर्मा इस मामले में नाम आने के बाद इस्तीफा दे चुकी हैं। उन्होंने इस्तीफा देने बाद बेगूसराय में आयोजित एक सभा में उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि जब आरोप भाजपा के मंत्री सुरेश शर्मा पर भी लगे तो उनपर कार्रवाई क्यों नहीं की जा रही। इसपर सुरेश शर्मा ने मंजू वर्मा से कहा है कि आवेश में नहीं बोलना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here