तेजप्रताप के लापता होने पर ऐश्वर्या का रो-रोकर बुरा हाल, कहा- प्लीज ‘जानू’ वापस लौट आओ घर

0
191

पटना: तेजप्रताप के गायब होने के कारण मां राबड़ी देवी, भाई तेजस्वी यादव और पत्नी ऐश्वर्या काफी परेशान है। पारिवारिक सूत्रों के अनुसार मीडिया में तेजप्रताप के लापता की खबर आते ही ऐश्वर्या परेशान हो उठी। उसने अपने आप को कमरे में बंद कर लिया। काफी देर बाद जब वह सास के पास आई तो ऐसा लग रहा था मानो वह रो रही हो।



ताजा अपडेट अनुसार राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव के देर रात तक पटना नहीं पहुंचने पर राबड़ी आवास और उनकी ससुराल चंद्रिका राय के आवास पर परिजन परेशान रहे। तेजप्रताप के साथी एवं सुरक्षाकर्मी भी मीडियाकर्मियों व परिजनों के फोन कॉल रिसीव नहीं कर रहे थे। इससे तेज और उनकी पत्नी ऐश्वर्या के परिवार वालों की परेशानी और बढ़ गयी।

सूत्रों की मानें तो उनके मित्रों के फोन का लोकेशन देर शाम बनारस में पाया गया। गौरतलब है कि कई बार तेजप्रताप पहले भी कह चुके है कि वे तनाव में होने पर वृंदावन की यात्रा पर निकल जाते हैं। माना जा रहा है कि इस बार भी वह वहीं के लिए रवाना हुए हैं। तीन दिन पहले तेजप्रताप यादव अपने पिता से मिलने के लिए पटना से रांची के लिए रवाना हुए थे।



वहां से सोमवार को उनके वापस लौटने की उम्मीद थी। रांची में पिता लालू प्रसाद से मिलने के बाद वे रविवार की रात बोधगया पहुंचे। शारीरिक रूप से लगातार यात्रा व पारिवारिक तनाव के कारण तेजप्रताप काफी थके दिख रहे थे। जानकारी के अनुसार, तेजप्रताप यादव शुक्रवार से ही परिजनों का फोन कॉल रिसीव नहीं कर रहे हैं। राजद के स्थानीय विधायक कुमार सर्वजीत ने चिकित्सकों से उनके स्वास्थ्य की जांच करायी। डॉक्टरों ने थकान का असर बताया। तेज प्रताप के वृंदावन जाने की चर्चा से स्पष्ट है कि उनकी नाराजगी कम नहीं हुई है।



प्रदेश राजद के मुख्य प्रवक्ता व विधायक भाई वीरेंद्र ने कहा कि तेजप्रताप यादव जल्द ही पटना लौटेंगे। सोमवार को बातचीत में श्री वीरेंद्र ने बताया कि तेजप्रताप को लेकर उनके परिजन चिंतित हैं। उन्होंने बताया कि राजद विधायक कुमार सर्वजीत से हुई बातचीत के अनुसार, तेजप्रताप ने पटना लौटने की बात कही है।



इसलिए हमें उम्मीद है कि वे शीघ्र ही पटना पहुंचेंगे। इस पूरे प्रकरण से लालू-राबड़ी परिवार एवं चंद्रिका राय के परिवार में चिंता लगातार बनी हुई है। परिवार के बीच ही समस्या के समाधान के रास्ते तलाशे जा रहे हैं। वहीं, सोमवार को दिनभर लालू-राबड़ी आवास एवं चंद्रिका राय के आवास पर सन्नाटा पसरा रहा। चंद्रिका राय अबतक इस मामले पर सार्वजनिक रूप से कुछ भी बोलने से बच रहे हैं। उन्हें उम्मीद है कि रिश्तों में बनी खटास को दूर कर लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here