मां वैष्णो देवी के भक्त अब यात्रा मार्ग में भी मां की दिव्य आरती के दर्शन कर सकेंगे

0
63

मां वैष्णो देवी के भक्त अब यात्रा मार्ग भी मां की दिव्य आरती के दर्शन कर सकेंगे। इसके लिए श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड जल्द ही भवन के विभिन्न रूटों पर एलईडी स्क्रीन लगाएगा। इससे सुबह शाम मंदिर में होने वाली दिव्या अटका (प्राचीन गुफा का प्रांगण) आरती को यात्रा मार्ग पर लाइव दिखाया जाएगा।

श्राइन बोर्ड की मां वैष्णो देवी के प्राचीन मार्ग के साथ ही ताराकोट मार्ग, भैरो घाटी मार्ग पर एलईडी स्क्रीन लगाने की योजना है, जिस पर तेजी से कार्य किया जा रहा है। प्रयास है कि इसी वर्ष श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए यह व्यवस्था शुरू हो जाएगी। अभी तक मां वैष्णो देवी के भक्त अपने घरों में ही निजी टीवी चैनलों के माध्यम से भवन में होने वाली दिव्य आरती की आनंद ले पाते थे।

जो श्रद्धालु मां वैष्णो देवी के दर्शन के लिए आते थे और आरती के समय मंदिर में नहीं पहुंच पाते थे, को दिव्य आरती के दर्शन की कमी खलती थी। इस कमी को श्राइन बोर्ड इसी साल दूर करने में जुटा है। मां वैष्णो देवी के मार्गो पर लगाई जाने वाली करीब 100 एलईडी स्क्रीन पर 4 से 5 करोड़ रुपये की लागत का अनुमान है। मां वैष्णो देवी के मार्गो पर एलईडी स्क्रीन लगाने का योजना पर काम जारी है। प्रयास है कि जल्द से जल्द श्रद्धालुओं को यह सुविधा प्रदान की जाए।

एलईडी लगने से श्रद्धालु यात्रा मार्ग पर भी दिव्य आरती के दर्शन कर सकेंगे। -सिमरनदीप ¨सह, सीईओ, श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्डइन स्थानों पर स्थापित होंगी एलईडीश्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड मां वैष्णो देवी के सभी मार्गो के साथ भैरो घाटी मार्ग पर भी एलईडी लगाएगा। वैष्णो देवी के प्राचीन मार्ग पर सांझी छत्त, लंबी केरी, आद्कुंवारी, चरण पादुका, बाणगंगा आदि क्षेत्रों में एलईडी लगाएगा। इसके अलावा नए ताराकोट मार्ग पर भी इसकी व्यवस्था होगी।

 

आधार शिविर कटड़ा में भी कुछ स्थानों पर एलईडी स्क्रीन स्थापित की जाएंगी। ताकि ज्यादा से ज्यादा श्रद्धालु अपनी यात्रा के दौरान मां वैष्णो देवी की दिव्य लाइव अटका आरती का आनंद उठा सकें। श्रद्धालु का सपना होगा पूरा वैष्णो देवी यात्रा के दौरान भवन के सभी मार्गो पर दिव्या अटका आरती का आनंद ले सकेंगे। इसके अलावा निम्न वर्गीय यानी गरीब श्रद्धालुओं का सपना भी पूरा होगा। मां वैष्णो देवी की कुल यात्रा के दौरान करीब 40 फीसद श्रद्धालु गरीब वर्ग के होते हैं जो चाह कर भी आरती में शामिल नहीं हो सकता, क्योंकि अटका आरती में बैठने के लिए श्राइन बोर्ड 1000 प्रति श्रद्धालु शुल्क वसूला जाता है।

वहीं, प्राचीन गुफा का प्रांगण जिसे अटका कहा जाता है, में सीमित जगह है। एक ही समय करीब 350 श्रद्धालु ही बैठ सकते हैं, ऐसे में अधिकतर भक्तों की आरती में शामिल होने की तमन्ना ही पूरी नहीं हो पाती है। अटका आरती में बैठने के लिए ऑनलाइन होगी बुकिंग सुबह शाम होने वाली मां वैष्णो देवी की दिव्य अटका आरती में शामिल होने के लिए श्रद्धालु एडवांस ऑनलाइन बु¨कग करवा सकेंगे। इसके अलावा तत्काल बु¨कग भी ले सकता है। इसके लिए एसडीएम भवन के कार्यालय में काउंटर बनाया गया है। यहां श्रद्धालु तत्काल शुल्क देकर बुकिंग करवाई जा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here