श्रद्धालुओं का स्वागत सेवादार बन कर करेंगे अधिकारी, सुरक्षा के लिए ढाई हजार अतिरिक्त जवान तैनात

0
63

गुरु गोविंद सिंह जी महाराज का 352वां प्रकाशोत्सव 11 से 14 जनवरी तक मनाया जाएगा। इसमें देश-विदेश से आने वाली संगत की सुरक्षा व सुविधा के लिए प्रशासनिक तैयारी पूरी कर ली गई है। अतिथियों का स्वागत स्वयं को सेवादार मान कर प्रशासनिक अधिकारी करेंगे, ताकि बिहार से अतिथि बेहतर संदेश लेकर जाएं।

डीएम ने कहा कि भीड़ नियंत्रण, ट्रैफिक संचालन, फायर व चिकित्सा समेत अन्य क्षेत्रों परस्पर समन्वय बना कर रखें। एसएसपी गरिमा मलिक व वैशाली के डीएम राजीव रौशन व पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो ने कहा कि संगत की सेवा, सुरक्षा व सुविधा के लिए तमाम तैयारी पूरी कर ली गई है। सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

प्रकाशोत्सव के दौरान सुरक्षा व्यवस्था के लिए ढाई हजार से अधिक अतिरिक्त बलों की तैनाती की जाएगी। मुजफ्फरपुर, भागलपुर व दरभंगा जोन के पुलिसकर्मियों के साथ ही बीएमपी से लेकर होमगार्ड तक प्रतिनियुक्त किए गए हैं। इसको लेकर पुलिस मुख्यालय द्वारा जोनल आईजी के साथ ही अन्य संबंधित अफसरों को विशेष दिशा-निर्देश दिए जा चुके हैं। मुजफ्फरपुर, भागलपुर और दरभंगा जोन से 300-300 लाठीधारी जवान बुलाए गए हैं।

पंज प्यारों की अगुवाई में निकाली गई प्रभातफेरी
बुधवार को तख्त परिसर से पंज प्यारों की अगुवाई में प्रभातफेरी निकली। प्रभातफेरी तख्त साहिब से अशोक राजपथ के मुख्य मार्ग चौक होते हुए चमडोरिया, हाजीगंज, मारूफगंज, मालसलामी होते हुए गुरुद्वारा गुरु के बाग पहुंची। प्रभात फेरी का समापन 11 जनवरी को बड़ी प्रभातफेरी से होगा। 12 को गायघाट स्थित बड़ी संगत गुरुद्वारा से नगर कीर्तन निकलेगी, जो अशोक राजपथ के मुख्य मार्ग होते हुए तख्त श्री हरमंदिर जी पटना साहिब पहुंचेगी। 13 जनवरी को तख्त साहिब में प्रकाश पर्व का मुख्य समारोह होगा। 14 जनवरी को बाललीला गुरुद्वारा में जन्मोत्सव मनाया जाएगा।

गुलाब देकर डीएम ने श्रद्धालुओं का किया स्वागत
डीएम कुमार रवि ने बुधवार को गुरु गोविंद सिंह महाराज के 352वें प्रकाश पर्व में शामिल होने आए 250 संगतों का राजेंद्रनगर टर्मिनल पर गुलाब का फूल देकर व माला पहनाकर स्वागत किया। यहां से सभी संगत बस से कंगन घाट टेंट सिटी रवाना हुए। इससे पहले डीएम ने श्रद्धालुओं के लिए राजेंद्रनगर टर्मिनल और पटना साहिब स्टेशन पर हेल्प डेस्क का उद‌्घाटन किया। डीएम ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा सुरक्षा और सुविधाओं की पूरी व्यवस्था की गई है। कंगन घाट पर पर्यटन निगम द्वारा टेंट सिटी का निर्माण कराया गया है। बाहर से आने वाले श्रद्धालु यहां रहेंगे।

टेंट सिटी के लिए 8.20 करोड़ की मंजूरी : मंत्री
पर्यटन मंत्री प्रमोद कुमार ने कहा कि प्रकाश पर्व पर सवा आठ करोड़ रुपए की लागत से कंगन घाट पर टेंट सिटी का निर्माण किया जा रहा है। मंत्री ने कहा कि टेंट सिटी में सिख श्रद्धालुओं के लिए अटैच रूम, गरम पानी, लंगर आदि की समुचित व्यवस्था की गई है। 250 शौचालयों का भी निर्माण कराया गया है। नई व्यवस्था पिछली बार से बेहतर होगी।

स्टेशन, एयरपोर्ट व सिटी इलाके में जगह-जगह बना हेल्पडेस्क
प्रकाश पर्व में आने वाले श्रद्धालु शहर की किसी भी गली से गुरुद्वारा जाना चाहेंगे उनको पूरी जानकारी जिला प्रशासन की टीम उपलब्ध कराएगी। जिला प्रशासन ने पटना सिटी इलाके की विभिन्न जगहों पर हेल्पडेस्क स्थापित किया है। इसमें प्रतिनियुक्त पदाधिकारी और कर्मचारी श्रद्धालुओं का अभिवादन पंजाबी भाषा में करेंगे। डीएम कुमार रवि ने कहा कि रेलवे स्टेशन, पटना एयरपोर्ट से लेकर पटना सिटी की विभिन्न जगहों पर हेल्पडेस्क स्थापित किया गया है। यहां अंग्रेजी, पंजाबी व हिन्दी की पूरी जानकारी रखने वाले कर्मचारियों को प्रतिनियुक्त किया गया है।

फायरकर्मी तैनात : पटना सिटी फायर ब्रिगेड के फायर अफसर सुरेंद्र सिंह ने बताया कि कंगन घाट टेंट सिटी में अग्निशमन यंत्र के साथ 60 फायरमैन व 12 फायर अफसर तैनात किए गए हैं। तख्त श्री हरिमंदिर जी, बाललीला गुरुद्वारा व मंगल तालाब परिसर के निकट 40 फायरमैन व 12 फायर अफसर की तैनाती की गई है। मंगल तालाब के निकट फायर ब्रिगेड की दो गाड़ियां, तख्त श्री हरिमंदिर जी के निकट तीन गाड़ियां, बाललीला गुरुद्वारा के निकट एक गाड़ी तैनात हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here